Xiaomi Mi A3 का रिव्यू

Xiaomi Mi A3 Review in Hindi: शाओमी ने Mi A2 के अपग्रेड वर्जन मी ए3 को भारत में लॉन्च कर दिया है, तो आइए अब आपको इस हैंडसेट के बारे में विस्तार से जानकारी मुहैया कराते हैं...

Share on Facebook Tweet Share Reddit आपकी राय
Xiaomi Mi A3 का रिव्यू

Xiaomi Mi A3 Review in Hindi: शाओमी मी ए3 का रिव्यू

ख़ास बातें
  • Xiaomi Mi A3 है गूगल एंड्रॉयड वन प्रोग्राम का हिस्सा
  • 48 मेगापिक्सल के कैमरे के साथ आता है शाओमी मी ए3
  • 32 मेगापिक्सल का सेल्फी सेंसर है Xiaomi के इस फोन में
Mi A1 स्मार्टफोन Xiaomi का पहला स्मार्टफोन था जो गूगल एंड्रॉयड वन प्रोग्राम का हिस्सा था। शाओमी के अन्य स्मार्टफोन की तरह इसे भी पावरफुल हार्डवेयर के साथ उतारा गया था, लेकिन यह MIUI के बजाय स्टॉक एंड्रॉयड पर चलता है। इसके बाद शाओमी ने मी ए1 के अपग्रेड वर्जन Mi A2 (रिव्यू) को लॉन्च किया। उस वक्त मी ए2 स्मार्टफोन 20,000 रुपये से कम के प्राइस सेगमेंट में एक बेस्ट कैमरा स्मार्टफोन था। गौर करने वाली बात यह है कि मी ए2 में 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक और स्टोरेज को बढ़ाने के लिए विकल्प नहीं है। अब Xiaomi ने मी ए2 के अपग्रेड वर्जन Mi A3 को भारत में लॉन्च किया है, तो आइए अब शाओमी मी ए3 के बारे में विस्तार से आपको जानकारी मुहैया कराते हैं...
 

Xiaomi Mi A3 का डिज़ाइन

शाओमी मी ए3 में ग्लास सैंडविच डिज़ाइन दिया गया है, याद करा दें कि Mi A2 को मेटल-क्लैड के साथ उतारा गया था। फोन के फ्रंट, बैक और कैमरा मॉड्यूल पर कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 का इस्तेमाल हुआ है जो डिवाइस को दिन-प्रतिदिन इस्तेमाल के दौरान कुछ हद तक स्क्रैच से बचाने में मदद करेगा। फोन के फ्रंट पैनल में सेल्फी कैमरा को ड्यूड्रॉप नॉच में जगह मिली है।


मी ए3 के किनारों में पतले बेजल हैं, लेकिन फोन के ऊपरी और निचले हिस्से में बॉर्डर थोड़ा मोटा है। शाओमी मी ए3 में प्लास्टिक फ्रेम के साथ क्रोम फिनिश का भी इस्तेमाल हुआ है। हमारे पास रिव्यू के लिए मोर देन व्हाइट कलर वेरिएंट है। इसके अलावा मी ए3 का नॉट जस्ट ब्लू और काइंड ऑफ ग्रे कलर वेरिएंट भी उतारे गए हैं।

ऐसा लगता है कि मी ए3 के कलर वेरिएंट के नाम Google के पिक्सल फोन से प्रेरित हैं। फोन के ऊपरी हिस्से में 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक, सेकेंडरी माइक्रोफोन और आईआर एमिटर है जिसका इस्तेमाल आईआर आधारित एप्लायंसेज को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है। मी ए3 के निचले हिस्से में दो ग्रिल हैं, लेकिन दाहिनी ओर दी गई ग्रिल में लाउडस्पीकर है, साथ ही यूएसबी टाइप-सी पोर्ट भी दिया गया है।
 
Xiaomi

Xiaomi ने फोन के दाहिनी ओर पावर और वॉल्यूम बटन दिया है, बटन तक हाथ आसानी से पहुंच जाता है। फोन के बायीं ओर हाइब्रिड डुअल-सिम ट्रे दी गई है। फोन के पिछले हिस्से में सिंगल-एलईडी फ्लैश के साथ तीन रियर कैमरे दिए गए हैं। Mi A2 की तरह Mi A3 में फोन के बैक पैनल पर फिंगरप्रिंट सेंसर नहीं मिलेगा क्योंकि मी ए3 इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर से लैस है।
 

Xiaomi Mi A3 स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर

15,000 रुपये से कम के प्राइस सेगमेंट में प्रतिस्पर्धा बढ़ती जा रही है, यही वज़ह है कि हैंडसेट निर्माता कंपनियां बेहतरीन हार्डवेयर वाले स्मार्टफोन मार्केट में उतार रही हैं। इस प्राइस सेगमेंट में Redmi Note 7 Pro (रिव्यू) और Vivo Z1 Pro (रिव्यू) जैसे फोन पहले से ही मार्केट में उपलब्ध हैं जो क्रमशः क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 675 और स्नैपड्रैगन 712 प्रोसेसर से लैस हैं।

शाओमी मी ए3 में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 665 प्रोसेसर दिया गया है। इसी चिपसेट का इस्तेमाल हाल ही में लॉन्च हुए Realme 5 (रिव्यू) में भी हुआ है। यह प्रोसेसर स्नैपड्रैगन 660 का अपग्रेड है, इस प्रोसेसर का इस्तेमाल मी ए2 में किया गया था। मी ए3 के दो वेरिएंट उतारे गए हैं, एक 4 जीबी रैम/ 64 जीबी स्टोरेज के साथ और दूसरा 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज के साथ।

हमारे पास रिव्यू के लिए मी ए3 का 6 जीबी रैम वेरिएंट है। शाओमी का कहना है कि मी ए3 में यूएफएस 2.1 स्टोरेज है। एक बात जो आश्चर्यचकित करने वाली थी वह यह कि Mi A3 में कंपनी ने एचडी+ डिस्प्ले का इस्तेमाल किया गया है। जबकि Mi A1 और Mi A2 दोनों ही हैंडसेट फुल एचडी+ पैनल के साथ उतारे गए थे।
 
Xiaomi

पुराने मॉडल में एलसीडी पैनल था उनकी तुलना में मी ए3 एमोलेड पैनल के साथ उतारा गया है। हमें स्क्रीन का कलर आउटपुट एडजस्ट करने का कोई तरीका नहीं मिला, हमने पाया कि यह ज्यादा बूस्ट कर देता है। पैनल में वैसे त पर्याप्त ब्राइटनेस है लेकिन कई बार बाहर दिन की रोशनी में डिस्प्ले पर पढ़ पाने में परेशानी हो सकती है।

मी ए3 में जान फूंकने के लिए 4,030 एमएएच की बैटरी दी गई है, याद करा दें कि मी ए2 में 3,000 एमएएच की बैटरी जान फूंकने का काम करती है। फोन 18 वॉट फास्ट चार्जिंग सपोर्ट करता है, लेकिन Xiaomi ने रिटेल बॉक्स में केवल 10 वॉट का चार्जर ही दिया है। मी ए3 ब्लूटूथ 5, डुअल-बैंड वाई-फाई, डुअल 4जी वीओएलटीई और चार सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम सपोर्ट के साथ आता है।

चूंकि मी ए3 एंड्रॉयड वन प्रोग्राम का हिस्सा है, इसलिए यह मीयूआई के बजाय स्टॉक एंड्रॉयड पर चलता है। कोई ब्लोटवेयर प्री-इंस्टॉल नहीं है, जिसका अर्थ है कोई स्पैमी नोटिफिकेशन नहीं मिलेंगे। कुछ Google ऐप के साथ Mi कम्युनिटी ऐप है। आईआर एमिटर का उपयोग करने के लिए कोई ऐप नहीं है, इसलिए आपको खुद ही डाउनलोड करना होगा।

Mi A3 में Digital Wellbeing फीचर की सुविधा भी मिलेगी। मी ए3 को दो साल तक प्रमुख एंड्रॉयड ओएस अपडेट और तीन साल तक सिक्योरिटी अपडेट मिलते रहने की गारंटी है।
 

Xiaomi Mi A3 की परफॉर्मेंस और बैटरी लाइफ

मी ए3 का इस्तेमाल करते समय हमें यह नहीं लगा कि फोन धीमा हुआ। फोन में दिया स्नैपड्रैगन 665 प्रोसेसर बिना किसी समस्या के ऐप्स चलाता है। ,हमारे पास रिव्यू के लिए मी ए3 का 6 जीबी रैम वेरिएंट है, ऐसे में हम बैकग्राउंड में ऐप्स को बिना क्लिन ही आसानी से मल्टीटास्किंग कर पाए। इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर को डिस्प्ले में थोड़ी नीचे की ओर प्लेस किया गया है। हालांकि, यह असुविधाजनक नहीं है और स्मार्टफोन को अनलॉक करने में भी धीमा नहीं है।

PUBG Mobile डिफॉल्ट रूप से लो क्वालिटी प्रीसेट पर, ग्राफिक्स स्मूथ पर और फ्रेम रेट मीडियम पर सेट था। हमने ग्राफिक्स क्वालिटी को बैलेंस्ड पर सेट किया और हमने पाया कि मी ए3 बिना किसी समस्या के गेम को चला पाया। 30 मिनट तक गेम खेलने के बाद, हमने देखा कि स्मार्टफोन थोड़ा गर्म हो गया था और 10 प्रतिशत बैटरी की खपत भी हुई।

Mi A2 की तुलना में Mi A3 अच्छी बैटरी लाइफ प्रदान करता है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में, मी ए3 ने 16 घंटे और 21 मिनट तक साथ दिया। हमारे नियमित उपयोग के साथ, जिसमें हमने सभी बेंचमार्क चलाए, फोटो और वीडियो लिए और एक एक्टिव WhatsApp अकाउंट का इस्तेमाल किया। एक बार चार्ज करने पर फोन लगभग डेढ़ दिन तक चला।
 
Xiaomi

रिटेल बॉक्स के साथ आने वाला 10 वॉट का चार्जर 30 मिनट में मी ए3 को 27 प्रतिशत और एक घंटे में 54 प्रतिशत तक चार्ज कर देता है। अगर आप बैटरी को जल्दी चार्ज करना चाहते हैं तो आप 18 वॉट का चार्जर खरीद सकते हैं।
 

Xiaomi Mi A3 कैमरा

शाओमी मी ए2 अच्छे कैमरों के साथ उतारा गया था और स्वाभाविक रूप से लोग मी ए3 से भी यही उम्मीद कर रहे हैं। मी ए3 में तीन रियर कैमरे दिए गए हैं, इसमें 48 मेगापिक्सल Sony IMX 586 का प्राइमरी सेंसर और वाइड-एंगल लेंस के साथ 8 मेगापिक्सल का सेकेंडरी कैमरा है। 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर भी दिया गया है।

सोनी आईएमएक्स586 सेंसर OnePlus 7 और Redmi K20 Pro जैसे प्रीमियम फोन में दिया गया है। सेल्फी और वीडियो कॉलिंग के लिए, मी ए3 में 32 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है। मी ए3 का कैमरा सॉफ्टवेयर मीयूआई पर चलने वाले Redmi स्मार्टफोन से कुछ अलग नहीं है। फोन कै कैमरा ऐप में पोर्टेट, नाइट, पैनारोमा और प्रो सहित कई शूटिंग मोड हैं।

इसमें एचडीआर, एआई, फ्लैश और फिल्टर के लिए अलग से बटन दिए गए हैं। इसके अलावा 48 मेगापिक्सल मोड है जिसकी मदद से आप फुल रिजॉल्यूशन पर फोटो खींच सकते हैं, लेकिन रेगुलर फोटो मोड बेहतर क्लैरिटी के लिए 12 मेगापिक्सल पिक्सल-बाइनिंग शॉट्स प्रदान करता है। दिन के उजाले में खींची गई तस्वीरों में डिटेल अच्छे से कैप्चर हुई। फोन तेज़ी से फोकस को लॉक करता है और एक्सपोज़र को सही से सेट करता है।
 
xiaomi
xiaomi

दूरी पर स्थित ऑब्जेक्ट और टेक्स्ट को आसानी से पहचाना जा सकता है। हालांकि, मी ए3 एचडीआर बहुत अच्छी तरह से हैंडल नहीं करता है। वाइड-एंगल सेंसर की मदद से आप वाइड फ्रेम तो कैप्चर कर सकते हैं लेकिन डिटेल की कमी लगेगी।
 
xiaomi

मी ए3 से मैक्रो शॉट लेना आसान नहीं था, क्योंकि यह धीमी गति से फोकस करता है। यह सब्जेक्ट और बैकग्राउंड के बीच दूरी अच्छे से बनाए रखता है और डिटेल भी अच्छे सै कैप्चर होती हैं। पोर्टेट मोड शॉट लेने से पहले आपको बैकग्राउंड ब्लर को एडजस्ट करने की सुविधा प्रदान करता है। इस मोड में फोन का एज डिटेक्शन अच्छा था और रंग भी सही से कैप्चर हुए।

कम रोशनी में मी ए3 अच्छे शॉट्स देता है। यह फोकस तो तेजी से लॉक कर लेता है लेकिन तस्वीर को कैप्चर करने में थोड़ा धीमा है। लो-लाइट में लिए गए शॉट्स में डिटेल अच्छे से कैप्चर हुई और नॉयस भी कंट्रोल में है। मी ए3 में नाइट मोड पर स्विच करने पर तस्वीरें ब्राइट और बेहतर डिटेल के साथ कैप्चर हुई।
 
xiaomi
xiaomi

आउटडोर में ली गई सेल्फी में डिटेल अच्छे से कैप्चर हुई। ऐप में ब्यूटीफाई मोड है जिसे शॉट लेने से पहले ऐनेबल किया जा सकता है। सेल्फी पोर्टेट के दौरान एज डिटेक्शन अच्छा था, साथ ही आपको ब्लर के लेवल को सेट करने का भी विकल्प मिलता है। कम रोशनी में ली गई सेल्फी में डिटेल अच्छे से कैप्चर हुई।
 
xiaomi

प्राइमरी कैमरा 4K और सेल्फी कैमरा 1080 रिजॉल्यून पर वीडियो रिकॉर्डिंग करने में सक्षम है। प्राइमरी रियर कैमरा से 1080 रिजॉल्यूशन पर शूटिंग के दौरान वीडियो स्टेबलाइजेशन मिलता है। कम रोशनी में शिमर इफेक्ट दिखाई देता है। आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि 4K पर शूटिंग करते समय या सेल्फी कैमरे का उपयोग करने पर स्टेबलाइजेशन नहीं मिलेगा।
 

हमारा फैसला

Xiaomi ने मी ए3 में 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक और स्टोरेज को बढ़ाने का विकल्प तो दे दिया लेकिन स्क्रीन रिजॉल्यूशन को एचडी+ कर दिया है। इस कीमत में क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 665 एक सक्षम प्रोसेसर है और यह अच्छा परफॉर्म करता है। मी ए3 में बड़ी बैटरी है जो अच्छी बैटरी लाइफ प्रदान करती है। इस प्राइस रेंज़ में फोन की कैमरा परफॉर्मेंस भी काफी मजबूत है।

12,999 रुपये की शुरुआती कीमत वाले मी ए3 वेरिएंट को खरीदना शायद फायदे का सौदा साबित ना हो, क्योंकि मार्केट में इसी चिपसेट के साथ Realme 5 उपलब्ध है जिसका दाम 9,999 रुपये है। अगर फोटो क्वालिटी से ज्यादा आप परफॉर्मेंस को महत्व देते हैं तो शाओमी का Redmi Note 7 Pro (रिव्यू) स्नैपड्रैगन 675 चिपसेट से लैस है।

15,999 रुपये वाला मी ए3 का हाई-एंड वेरिएंट बहुत आकर्षक नहीं है, क्योंकि 16,999 रुपये में Realme 5 Pro का 8 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरिएंट उपलब्ध है। शाओमी मी ए3 उन लोगों के लिए खास हो सकता है जो स्टॉक एंड्रॉयड अनुभव, सॉफ्टवेयर अपडेट और अच्छी कैमरा परफॉर्मेंस चाहते हैं।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Good cameras
  • Premium build quality
  • Excellent battery life
  • Smooth performance
  • कमियां
  • Low-resolution display
  • Hybrid dual-SIM slot
  • Camera is slow to focus at times
  • Aggressive HDR
डिस्प्ले6.08 इंच
प्रोसेसरक्वालकोम स्नेपड्रैगन 665
फ्रंट कैमरा32-मेगापिक्सल
रियर कैमरा48-मेगापिक्सल + 8-मेगापिक्सल + 2-मेगापिक्सल
रैम4 जीबी
स्टोरेज64 जीबी
बैटरी क्षमता4030 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड
रिज़ॉल्यूशन720
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।

संबंधित ख़बरें

पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

 
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2019. All rights reserved.