Vivo S1 का रिव्यू

वीवो ने फोन के पिछले हिस्से पर तीन कैमरे दिए हैं। यहां एफ/ 1.78 अपर्चर वाला 16 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा, एफ/ 2.2 अपर्चर वाला 8 मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड-एंगल कैमरा और 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर है।

Share on Facebook Tweet Share Reddit आपकी राय
Vivo S1 का रिव्यू

Vivo S1 हीलियो पी65 प्रोसेसर के साथ आने वाला भारत का पहला फोन है

ख़ास बातें
  • वीवो एस1 की कीमत 17,990 रुपये से शुरू
  • तीन रियर कैमरों वाला हैंडसेट है वीवो एस1
  • Vivo S1 हैंडसेट 32 मेगापिक्सल के सेल्फी कैमरे के साथ आता है
Vivo ने हाल ही में भारतीय मार्केट में वीवो ज़ेड1 प्रो (रिव्यू) को उतारा था। इसकी कीमत बेहद ही लुभाने वाली थी। हमने अपने रिव्यू में इस फोन की तारीफ भी की थी। अब चीनी कंपनी ने मार्केट में थोड़े महंगे फोन Vivo S1 को उतारा है। यह कंपनी की नई एस-सीरीज़ का हिस्सा है, जहां 'एस' का मतलब स्टाइल है। इसमें कोई दोमत नहीं है कि वीवो एस1 बेहद ही स्टाइलिश है। क्या इसकी परफॉर्मेंस में भी दम है? आइए जानते हैं...
 

वीवो एस1 डिज़ाइन

वीवो स्मार्टफोन आम तौर पर बेहद ही स्लीक और खूबसूरत डिज़ाइन वाले होते हैं। नए फोन भी इसी लीग का हिस्सा है। Vivo S1 में 6.38 इंच का डिस्प्ले है और टॉप पर ड्यूड्रॉप नॉच है। Vivo ने इस फोन में एमोलेड पैनल दिया है। वीवो एस1 इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ आता है। डिस्प्ले के बॉर्डर बेहद ही पतले हैं। लेकिन हिस्से का बॉर्डर थोड़ा चौड़ा है।

वीवो एस1 को दो रंग में उपलब्ध कराया गया है- डायमंड ब्लैक और स्काइलाइन ब्लू। हमने डायमंड ब्लैक यूनिट को रिव्यू किया है। इसका पिछला हिस्सा लेमिनेटेड है, और यहां डायमंड पैटर्न डिज़ाइन और ग्रेडिएंट कलर फिनिश है। रोशनी गिरने के आधार पर पिछले हिस्से पर डायमंड पैटर्न सामने आता है, जो दिखने में बेहद ही खूबसूरत है।


हालांकि, हमें वीवो एस1 के बैकपैनल पर इस्तेमाल किया गया मेटेरियल पसंद नहीं आया। इस पर खरोंच के निशान आसानी से पड़ जाते हैं। यहां कंपनी को रेडमी नोट 7 प्रो (रिव्यू) की तरह कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास देना चाहिए था। वीवो एस1 ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप के साथ आता है। कैमरा मॉड्यूल उभार वाला है। लेकिन किनारे पर मैटल रिम से इन्हें खरोंच लगने से प्रोटेक्शन मिलती है।

वीवो ने प्लास्टिक फ्रेम पर भरोसा जताया है जो किनारे पर घुमा हुआ है। इस कारण से फोन की ग्रिप अच्छी रहती है। बैकपैनल स्मूथली फ्रेम पर नहीं मिलता है। वीवो ने हैंडसेट की दायीं तरफ पावर बटन के साथ वॉल्यूम बटन दिया है। इन तक आसानी से पहुंचा जा सकता है। वीवो ज़ेड1 प्रो की तरह वीवो एस1 में भी गूगल असिस्टेंट के लिए अलग बटन है।
 
Vivo

वीवो एस1 में हमें माइक्रो-यूएसबी पोर्ट देखकर निराशा हुई। क्योंकि इस कीमत में कंपनियां यूएसबी टाइप-सी पोर्ट देने लगी हैं। माइक्रोयूएसबी पोर्ट को निचले हिस्से पर लाउडस्पीकर और 3.5 एमएम हेडफोन जैक के साथ जगह मिली है। जबकि सिम ट्रे बायीं तरफ है।
 

वीवो एस1 स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर

वीवो एस1 मीडियाटेक हीलियो पी65 प्रोसेसर के साथ आने वाला भारत का पहला स्मार्टफोन है। हीलियो पी65 एक मिड-रेंज प्रोसेसर है जो 12 एनएम प्रोसेस पर बना है। ग्राफिक्स के लिए फोन में माली जी52 इंटीग्रेटेड है।

वीवो ने भारत में वीवो एस1 के तीन वेरिएंट उतारे हैं। शुरुआती वेरिएंट 4 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वाला है। दूसरा वेरिएंट 6 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज से लैस है। सबसे प्रीमियम वेरिएंट में 6 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज है। इन वेरिएंट की कीमत क्रमशः 17,990 रुपये, 18,990 रुपये और 19,990 रुपये है। हमने फोन के टॉप वेरिएंट को रिव्यू किया है। आउट ऑफ बॉक्स हमें 100 जीबी स्टोरेज मिली। कीमत को देखते हुए कहा जा सकता है कि मार्केट में वीवो एस1 को सीधे तौर पर रियलमी एक्स (रिव्यू) और ओप्पो के3 (रिव्यू) से चुनौती मिलेगी।

वीवो एस1 एक डुअल-सिम डिवाइस है। इसमें दो नैनो-सिम के लिए स्लॉट है। माइक्रोएसडी कार्ड के लिए अलग स्लॉट भी है। वीवो एस1 के कनेक्टिविटी फीचर में ब्लूटूथ 5, डुअल-बैंड वाई-फाई, जीपीएस, एफएम रेडियो, डुअल 4जी वीओएलटीई और आम सेंसर्स शामिल हैं। वीवो एस1 की बैटरी 4500 एमएएच की है। इसके अलावा रिटेल बॉक्स में 18 वॉट का फास्ट चार्जर मिलेगा।
 
Vivo

वीवो एस1 एंड्रॉयड 9 पाई पर आधारित फनटच ओएस पर चलता है। यानी फोन का यूआई पूरी तरह से कस्टमाइज़्ड है। अगर आपने पहले कभी वीवो स्मार्टफोन इस्तेमाल नहीं किया है तो डिवाइस को समझ पाना आसान नहीं होगा। इसमें कोई ऐप ड्रॉअर नहीं है। सारे ऐप आइकन्स होम स्क्रीन पर हैं। फनटच में आईओएस जैसा कमांड सेंटर है।

वीवो फोन में पहले से कई अनचाहे ऐप मौज़ूद हैं। जैसे कि डेलीहंट, हेलो, फेसबुक, गाना, अमेज़न शॉपिंग, फोनपे, पेटीएम, और भी कई। अच्छी बात यह है कि फोन में ओप्पो ए9 (रिव्यू) की तरह हमें नोटिफिकेशन स्पैम का सामना नहीं हुआ।
 

वीवो एस1 परफॉर्मेंस, बैटरी लाइफ और कैमरे

वीवो एस1 में इस्तेमाल किया गया मीडियाटेक हीलियो पी65 आम इस्तेमाल में बखूबी साथ निभाता है। आपको कभी भी शिकायत नहीं होगी। स्मार्टफोन तेज़ी से ऐप लॉन्च करता है। आप गूगल प्ले स्टोर पर मौज़ूद किसी भी गेम को खेल सकते हैं या ऐप इस्तेमाल कर सकते हैं। हमें किसी ऐप को खोलने के लिए लंबा इंतज़ार नहीं करना पड़ा। बैटरी खपत पर भी वीवो एस1 का नियंत्रण बेहतरीन है, खासकर जब फोन इस्तेमाल ना हो रहा हो। 6 जीबी रैम वेरिएंट इस्तेमाल करने के कारण मल्टीटास्किंग में भी कोई दिक्कत नहीं हुई। हमें बैकग्राउंड में किसी ऐप को बंद करने की ज़रूरत नहीं पड़ी।

वीवो एस1 का एमोलेड पैनल बेहतरीन व्यूइंग एंगल के साथ आता है। फोन पर बाहर में भी पढ़ पाने में ज़्यादा दिक्कत नहीं हुई। हालांकि, निचले हिस्से पर मौज़ूद स्पीकर से बहुत ऊंची आवाज़ नहीं आती। इस वजह से वीवो एस1 पर मीडिया इंटरटेनमेंट में वो मज़ा नहीं है। हमनें डिवाइस में इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ फेस रिकग्निशन को टेस्ट किया। इन-डिस्प्ले स्कैनर तेज़ी से उंगली को स्कैन करके फोन को अनलॉक करता है। भले ही फेस अनलॉक स्मार्टफोन अनलॉक करने का सबसे सिक्योर तरीका नहीं है। लेकिन यह बेहद ही तेज़ और सहूलियत भरा है।

वीवो एस1 पर पबजी मोबाइल मीडियम प्रीसेट पर चला। ग्राफिक्स बैलेंस्ड पर सेट था और फ्रेम रेट मीडियम पर। हमने फोन पर करीब 20 मिनट तक इस गेम को खेला। इस दौरान हैंडसेट गर्म हो गया और बैटरी खपत 5 प्रतिशत हुई।
 
Vivo

वीवो एस1 को बेहतरीन बैटरी लाइफ के लिए जाना जाएगा। इसने आसानी से करीब डेढ़ दिन तक साथ दिया। इस दौरान हमने बेंचमार्क टेस्टिंग की। कुछ तस्वीरें खींचीं। इस दौरान डिवाइस पर व्हाट्सऐप अकाउंट भी एक्टिव था। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में स्मार्टफोन ने 16 घंटे 38 मिनट में दम तोड़ा। इसके साथ दिए गए चार्जर ने 30 मिनट में फोन की बैटरी को 34 प्रतिशत और घंटे भर में 65 प्रतिशत चार्ज कर दिया।

वीवो ने फोन के पिछले हिस्से पर तीन कैमरे दिए हैं। यहां एफ/ 1.78 अपर्चर वाला 16 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा, एफ/ 2.2 अपर्चर वाला 8 मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड-एंगल कैमरा और 2 मेगापिक्सल का डेप्थ सेंसर है। फ्रंट पैनल पर एफ/ 2.0 अपर्चर वाला 32 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है।
 

Vivo S1 के कैमरा सैंपल फुल-साइज़ में देखने के लिए टैप करें
 

कैमरा ऐप वीवो ज़ेड1 प्रो वाला ही है। आपके पास कई मोड हैं। एचडीआर, लाइव फोटो, फिल्टर्स और अपर्चर मोड के लिए क्वविक टॉगल हैं। रेगुलर और वाइड एंगल लेंस के बीच स्विच करने के लिए एक क्विक टॉगल है।

कीमत को देखते हुए हम यही कहेंगे कि वीवो एस1 के कैमरे से ली गईं तस्वीरें औसत से भी कमज़ोर थीं। दिन की रोशनी में फोन ने तेज़ी से फोकस किया। लेकिन हमने पाया कि फोटो अंडरएक्सपोज़्ड थे। डिटेल संतोषजनक थे। दूर के टेक्सट पढ़ने जा सकते थे। इसी सीन को अगर अल्ट्रा-वाइड-एंगल सेंसर से कैपचर किया जाएगा तो बेहतर एक्सपोज़र वाला सीन आता है। लेकिन इस परिस्थिति में डिटेल कम हो जाते हैं।

क्लोज़ अप शॉट अच्छे आए। वीवो एस1 ने तेज़ी से फोकस लॉक किया। एक्सपोज़र भी सटीक थी। हालांकि, कलर्स हमेशा सटीक नहीं आए। पोर्ट्रेट मोड अलग लाइटनिंग इफेक्ट्स के साथ आता है। जिसे आप शटर बटन पर टैप करने से पहले इस्तेमाल में ला सकते हैं। आउटपुट में अच्छा एज डिटेक्शन था।

वीवो में अलग अपर्चर मोड है जिसका इस्तेमाल बोकेह शॉट लेने के लिए हुआ है। इस मोड में पोर्ट्रेट शॉट लेते वक्त हमने पाया कि ब्लर इफेक्ट कंसिस्टेंट नहीं था। एज डिटेक्शन भी इस मोड में भी कुछ खास नहीं था।

कैमरा में एआई पोर्ट्रेट फ्रेमिंग फीचर है जो आपकी मदद एक सीन को ठीक से बनाने में करता है। फ्रेम सेट करने पर वीवो एस1 अपने आप शॉट ले लेता है।

कम रोशनी में भी वीवो एस1 की कैमरा परफॉर्मेंस औसत है, क्योंकि फोन डिटेल कैपचर करने में सफल नहीं रहा। हमें कैमरा ऐप में कोई नाइट मोड नहीं मिला। संभवतः यह मोड फोन के कैमरे की परफॉर्मेंस कम रोशनी में बेहतर करता। सेल्फी में डिटेल तो आए लेकिन वीवो एस1 सीन को ओवरएक्सपोज कर देता है। आप सेल्फी मोड में भी पोर्ट्रेट शॉट ले सकते हैं। हमारे अनुभव में फोन एज डिटेक्शन के मामले में सही था।

आप प्राइमरी और सेल्फी कैमरे से सर्वाधिक 1080 पिक्सल के वीडियो रिकॉर्ड कर पाएंगे। हमने पाया कि वीवो एस1 में वीडियो स्टेबलाइज़ेशन नहीं था। कीमत को देखते हुए यह चौंकाने वाली जानकारी थी।

हमारा फैसला
वीवो एस1, 20,000 रुपये से कम कीमत में वीवो ब्रांड का एक और स्मार्टफोन है। इसका डिजाइन लुभावना है और यह इन-डिस्प्ले फिंगप्रिंट सेंसर के साथ आता है। फोन में नए मीडियाटेक हीलियो पी65 प्रोसेसर का इस्तेमाल किया गया है जो कुछ बेंचमार्क टेस्ट में मीडियाटेक हीलियो पी70 से थोड़ा ही बेहतर है। प्रोसेसर क्षमता की बात करें तो वीवो एस1 की परफॉर्मेंस क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर वाले हैंडसेट के आसपास थी, जो आज की तारीख में इसके दाम से करीब-करीब 10,000 रुपये कम में मिल जाएंगे।

वीवो एस1 की बैटरी लाइफ अच्छी है। लेकिन इसकी कैमरा परफॉर्मेंस ने हमें निराश किया। 19,990 रुपये के बजट को देखते हुए आपके पास Realme X (रिव्यू) या Oppo K3 (रिव्यू) जैसे मजबूत विकल्प हैं। थोड़ा ज्यादा खर्चकर Redmi K20 को खरीदा जा सकता है।

  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • Good battery life
  • Quick in-display fingerprint scanner
  • Bundled 18W fast charger
  • कमियां
  • Average CPU performance
  • Cameras could’ve been better
  • Micro-USB port
डिस्प्ले6.38 इंच
फ्रंट कैमरा32-मेगापिक्सल
रियर कैमरा16-मेगापिक्सल + 8-मेगापिक्सल + 5-मेगापिक्सल
रैम4 जीबी
स्टोरेज128 जीबी
बैटरी क्षमता4500 एमएएच
ओएसएंड्रॉ़यड
रिज़ॉल्यूशन1080
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।

संबंधित ख़बरें

पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

 
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2019. All rights reserved.