Oppo K1 का रिव्यू

Share on Facebook Tweet Share Reddit आपकी राय
Oppo K1 का रिव्यू

Oppo K1 स्मार्टफोन की भारत में कीमत 16,990 रुपये है

ख़ास बातें

स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर से लैस है ओप्पो के1

Oppo K1 की इनबिल्ट स्टोरेज 64 जीबी है

इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ आता है Oppo K1

2019 में हैंडसेट निर्माता कंपनियों के कई फ्लैगशिप स्मार्टफोन में पतले बेजल वाले डिस्प्ले और बेहतर कैमरा आदि फीचर्स देखने को मिल रहे हैं। हैंडसेट निर्माता कंपनी ओप्पो की नई सीरीज़ के अंतर्गत Oppo K1 स्मार्टफोन को लॉन्च किया गया है। ओप्पो के1 हैंडसेट इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर से लैस है। Oppo ब्रांड का यह फोन भारतीय बाजार में ऐसा सबसे सस्ता हैंडसेट है जो इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ आता है। क्या Oppo K1 स्मार्टफोन एक ऑल-राउंडर स्मार्टफोन साबित होगा,आइए जानते हैं?
 

Oppo K1 का डिजाइन और बिल्ड

चीनी मार्केट में Oppo K1 को पिछले साल अक्टूबर में लॉन्च किया गया था। ओप्पो के1 का बैक पैनल ग्रेडिएंट डिजाइन के साथ आता है। हमारे पास रिव्यू के लिए एस्ट्रल ब्लू वेरिएंट उपलब्ध है जो कि काफी स्ट्राइकिंग हैं। इसके अलावा Oppo K1 का पियानो ब्लैक वेरिएंट भी लॉन्च किया गया है। इसका 3डी इंजेक्शन-मोल्ड बैक पैनल जब लाइट के संपर्क में आता है तो कूल इफेक्ट देखने को मिलता है। बैक पैनल पर उंगलियों के निशान आसानी से पड़ जाते हैं। बटन की व्यवस्था और फोन की बिल्ड क्वालिटी काफी अच्छी है।
 
Oppo

फोन के बायीं तरफ सिम-ट्रे (दो नैनो सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड) को जगह मिली है। Oppo K1 डुअल 4जी वीओएलटीई सपोर्ट के साथ आता है। फोन के निचले हिस्से में स्पीकर ग्रिल, माइक्रो-यूएसबी पोर्ट और 3.5 मिलीमीटर हेडफोन जैक है।
 
Oppo
Oppo K1 स्मार्टफोन में 6.4 इंच का फुल-एचडी+ (1080x2340 पिक्सल) डिस्प्ले है, स्क्रीन प्रोटेक्शन के लिए कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 5 का इस्तेमाल हुआ है। सिक्योरिटी के लिए इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर को जगह मिली है। बता दें कि ओप्पो ब्रांड के इस फोन में एमोलेड पैनल है।
 
Oppo

Oppo K1 में वाटरड्रॉप डिस्प्ले नॉच है। नॉच में सेल्फी सेंसर को जगह मिली है, जगह कम होने की वजह से नोटिफिकेशन एलईडी मौजूद नहीं है। हमेशा की तरह डिस्प्ले पर पहले से ही स्क्रीन गार्ड मिलेगा। फोन के पिछले हिस्से पर डुअल रियर कैमरा सेटअप है। रिटेल बॉक्स में आपको सिलिकॉन केस, सिम इजेक्ट टूल, माइक्रो-यूएसबी कैबल, 10 वाट पावर अडेप्टर और हेडसेट है।
 

Oppo K1 के स्पेसिफिकेशन और फीचर्स

हैंडसेट में ऑक्टा-कोर क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 660 प्रोसेसर का इस्तेमाल हुआ है जिसकी स्पीड 2.2 गीगाहर्ट्ज़ है। इसी चिपसेट का इस्तेमाल Realme 2 Pro (रिव्यू) और Xiaomi Mi A2 (रिव्यू) में हुआ है। भारत में Oppo K1 का केवल एक ही वेरिएंट लॉन्च हुआ है। 4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट के साथ। फोन में डुअल-बैंड वाई-फाई 802.11 एसी, ब्लूटूथ 5.0, यूएसबी ओटीजी, जीपीएस सपोर्ट शामिल है। स्मार्टफोन में कंपास, एक्सेलेरोमीटर, एंबियंट लाइट सेंसर और जायरोस्कोप सेंसर हैं। हैंडसेट में एफएम रेडियो नहीं दिया गया है।

ओप्पो के1 आउट ऑफ बॉक्स एंड्रॉयड 8.1 ओरियो पर आधारित कलरओएस 5.2 पर चलेगा। उम्मीद है कि मोबाइल वर्ल्ड कांग्रेस 2019 (MWC 2019) के दौरान कंपनी कलरओएस6 के साथ कुछ नए ओप्पो स्मार्टफोन से पर्दा उठा सकती है। बेहतर गेमिंग परफॉर्मेंस के लिए Oppo K1 हाइपर बूस्ट टेक के साथ आता है। इसके अलावा आपको स्मार्ट साइडबार, स्मार्ट स्कैन और ORoaming जैसे कई अतिरिक्त फीचर्स भी मिलेंगे।
 
Oppo

सिस्टम ऐप्स के अलावा Oppo K1 में फेसबुक के अलावा ज्यादा प्री-इंस्टॉल थर्ड पार्टी ऐप्स मौजूद नहीं है। डिफाल्ट ब्राउजर और ओप्पो ऐप स्टोर की वजह से आपको कई विज्ञापन देखने को मिलेंगे। आप ऐप स्टोर स्पैम को डिसेबल कर सकते हैं लेकिन ब्राउजर में इस फीचर को डिसेबल करने के बाद भी यह परेशानी होगी। इसी तरह की परेशानी Oppo A7 में भी देखने को मिली थी।
 

Oppo K1 की परफॉर्मेंस, कैमरा और बैटरी लाइफ

हमने कई दिनों तक हैंडसेट को इस्तेमाल किया लेकिन हमें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई। फोन का डिस्प्ले काफी बड़ा है, इस वजह से स्मार्टफोन को एक हाथ से इस्तेमाल करने में आपको थोड़ी समस्या हो सकती है। फोन के बैक और साइड में ग्लासी टेक्स्चर होने के बावजूद भी फोन हाथ से फिसलता नहीं है। एमोलेड डिस्प्ले का टच रिस्पांस भी काफी अच्छा है।
 
oppo
ai

कलरओएस भी काफी स्मूथ है और 4 जीबी रैम की वजह से फोन बिना किसी परेशानी के चलता है। फोन के इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर की बात करें तो यह स्टैंडर्ड कैपेसिटिव सेंसर जितना तेज नहीं है। इसलिए सेंसर पर अपनी उंगली को सही ढंग से टच कराएं। फोन में दिया फेस रिकॉग्निशन फीचर तेजी से काम करता है। लो-लाइट में स्क्रीन ब्राइटनेस की मदद से यह आपके चेहरे की आसानी से पहचान कर लेता है।

वीडियो देखने के लिए 6.41 इंच का डिस्प्ले काफी अच्छा है। YouTube वीडियो देखते समय स्पीकर की आवाज़ काफी तेज थी, लेकिन  PUBG Mobile गेम खेलते समय फुल वॉल्यूम पर भी आवाज़ कुछ धीमी लगी।
 
oppo
oppo
oppo
oppok1

Oppo K1 में हेवी गेम्स खेलते समय किसी तरह की कोई समस्या नहीं हुई। Asphalt 9: Legends को हाई ग्राफिक्स सेटिंग और PUBG Mobile को मीडियम ग्राफिक्स पर रखने के बाद दोनों ही गेम काफी स्मूथ चली। हमने नोटिस किया कि 30 मिनट से अधिक खेलने पर भी फोन ज्यादा गर्म नहीं होता है। बेंचमार्क नंबर भी इस बात का संकेत देते हैं कि Oppo ब्रांड का यह फोन गेम्स और ऐप्स को बखूबी चलाता है। एंटूटू बेंचमार्क में ओप्पो के1 ने 1,28,852 स्कोर किया है।

कैमरा की बात करें तो Oppo K1 में पिछले हिस्से पर डुअल कैमरा सेटअप है। प्राइमरी सेंसर 16 मेगापिक्सल का है और सेकेंडरी सेंसर 2 मेगापिक्सल का। फ्रंट पैनल पर 25 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा है। सबसे पहले बात सेल्फी कैमरा की। सेल्फी सेंसर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) ब्यूटीफिकेशन सिस्टम से लैस है। यूजर चाहें तो ब्यूटीफिकेशन लेवल को मैनुअली भी सेट कर सकते हैं।

दिन की रोशनी में बिना ब्यूटीफिकेशन के इमेज़ क्वालिटी काफी अच्छी है। सेल्फी में आप बैकग्राउंड को ब्लर कर सकते हैं, लेकिन हमने पाया कि एज डिटेक्शन सही ढंग से काम नहीं करता है। लो-लाइट में ली गई सेल्फी भी काफी अच्छी आई। फ्रंट कैमरा ऑटो एचडीआर सपोर्ट के साथ आता है। कम रोशनी में भी 16 मेगापिक्सल का रियर सेंसर अच्छी तस्वीर खिंचता है। पोर्टेट मोड में शूट करते समय 2 मेगापिक्सल का रियर सेंसर केवल एज डिटेक्शन के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है।

पर्याप्त मात्रा में लाइट होने पर पोर्टेट मोड में कैमरा फोकस करने में कुछ समय लेता है। कैमरा ऐप में पैनारोमा, एआर स्टीकर्स, एक्सपर्ट मोड जैसे फीचर्स मिलेंगे। अगर वीडियो की बात करें तो Oppo K1 4K रिजॉल्यूशन तक की वीडियो रिकॉर्ड करने में सक्षम है। 1080p रिजॉल्यूशन पर इमेज़ क्वालिटी बेहतर आई। Oppo K1 में जान फूंकने के लिए 3,600 एमएएच की बैटरी दी गई है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में फोन ने 12 घंटे और 36 मिनट का बैकअप प्रदान किया। ओप्पो के1 वूक फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ नहीं आता लेकिन आपको 10वाट का पावर अडेप्टर मिलेगा जिसकी मदद से आपका फोन 2 घंटे 30 मिनट में फुल चार्ज हो जाएगा।
 

हमारा फैसला

इस प्राइस सेंगमेंट में Oppo K1 ही केवल एक ऐसा स्मार्टफोन है जो इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ आता है। भारत में इस हैंडसेट का दाम 16,990 रुपये है। हमें फोन में कई चीजें पसंद आईं लेकिन कुछ चीजें हैं जो बेहतर हो सकती थी जैसे कि फोन में यूएसबी टाइप-सी पोर्ट दिया जा सकता था। इसकी बिल्ड क्वालिटी और बेहतर हो सकती थी। लो-लाइट कैमरा परफॉर्मेंस भी थोड़ी बेहतर हो सकती थी। इसके अलावा हमें आशा है कि कंपनी अपने आगामी कलरओएस वर्जन में कई ऐप्स में जो परेशानी आ रही है उसे दूर करेगी।

बेहतर गेमिंग परफॉर्मेंस, शार्प डिस्प्ले, सेल्फी कैमरा, बेहतर बैटरी लाइफ और इन-डिस्प्ले फिंगरप्रिंट सेंसर से लैस Oppo K1 इस प्राइस सेगमेंट में एक बेहतरीन विकल्प है।
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
डिस्प्ले6.41 इंच
प्रोसेसर2.2 गीगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर
फ्रंट कैमरा25-मेगापिक्सल
रिज़ॉल्यूशन1080x2340 पिक्सल
रैम4 जीबी
ओएसएंड्रॉ़यड 8.1 Oreo
स्टोरेज64 जीबी
रियर कैमरा16-मेगापिक्सल + 2-मेगापिक्सल
बैटरी क्षमता3600 एमएएच
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।

रॉयडन सरेजो रॉयडन सरेजो ज़ुबान से फिट होने का शौक रखते हैं। टेक की दुनिया का ... और भी »

संबंधित ख़बरें

पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

 
रॉयडन सरेजो को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी