Oppo F7 पहली नज़र में...

 
Oppo F7 पहली नज़र में...

ओप्पो एफ7

ख़ास बातें

  • Oppo F7 पहली नज़र में हमें कैसा लगा, आप भी जानिए
  • नॉच को लेकर क्या हैं Oppo के प्लान, किन-किन फोन में दिए जा सकते हैं नॉच?
  • Oppo F7 स्मार्टफोन वीवो वी9 से कितना अलग? जल्द बताएंगे रिव्यू में
अगर आप इस साल नया एंड्रॉयड स्मार्टफोन खरीदने का मन बना रहे हैं तो आजकल दिए जा रहे 'नॉच' के लिए तैयार रहें। दरअसल, ऐप्पल आईफोन एक्स की तर्ज पर अब हर दूसरे स्मार्टफोन में नॉच दिया जाने लगा है। यहां तक कि एंड्रॉयड पी में भी अलग तरह के डिस्प्ले कट-आउट यूज़र को देखने को मिलेंगे। Vivo V9 भारत में लॉन्च हुआ पहला एंड्रॉयड स्मार्टफोन था, जिसमें नॉच दिया गया था। Oppo ने नॉच के साथ F7 को भारत में 21,990 रुपये में लॉन्च किया। यह फोन जल्द ही ओप्पो एफ5 और एफ सीरीज़ के अन्य स्मार्टफोन की जगह लेगा। एफ7 25 मेगापिक्सल की खूबी के साथ रियल टाइम एचडीआर क्षमता से लैस होकर आया है। साथ ही इसमें मौज़ूद हैं सेकेंड जेन एआई ब्यूटी, एआर स्टीकर भी।

हमने मुंबई में आयोजित हुए लॉन्च इवेंट में नए Oppo F7 के साथ कुछ वक्त बिताया। पहली नज़र में हमें यह मिड रेंज स्मार्टफोन कैसा लगा, आइए जानें...

4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज वाला Oppo F7 चमकीले सोलर रेड और मूनलाइट सिल्वर रंग वेरिएंट में उपलब्ध है। दोनों ही रंग वेरिएंट में पीछे की तरफ बैक पैनल है। ग्लास नहीं दिया गया है। बाकी पूरी बॉडी प्लास्टिक की है और फिनिश बेहतर है। स्क्रेच आएंगे या नहीं, यह जानने के लिए हमने सिम निकालने वाली पिन से कुछ निशान बनाने की कोशिश की। हमने पाया कि अगर फोन को किसी ऐसे बैग में रखा जाए, जिसमें कोई नुकीली चीज़ निकली हो तो फोन में स्क्रैच के साथ टूट-फूट हो सकती है। खास तौर पर उस समय, जब आपने फोन को कवर में ना रखा हो। फोन हल्का लगता है। डिस्प्ले पर ब्लैक बॉर्डर है, जो इसे फोन के बाकी हिस्से से अलग दिखाता है।


स्क्रीन की बात करें तो Oppo F7 में 6.23 इंच का 19:9 आस्पेक्ट रेशियो वाला  डिस्प्ल है। यह फुल एचडी प्लस भी है। साथ में यूज़र को फोन में स्क्रीन गार्ड पहले से लगा मिलता है। ब्राइटनेस लेवल बेहतर हैं और व्यूइंग एंगल भी बुरे नहीं हैं। हालांकि, हमें यह देखना है कि खुली धूप में फोन का डिस्प्ले कितना कारगर है। इसमें नोटिफिकेशन एलईडी नहीं है, जैसा कि ज्यादातर फोन में यह फीचर दिया जा रहा है। इसमें फ्रंट कैमरा और इयरफोन के लिए कट है। बटन रिप्लेसमेंट बेहतर है लेकिन हमें माइक्रो-यूएसबी पोर्ट देखकर थोड़ी निराशा हुई। फोन की कीमत को देखते हुए, हम समझ नहीं पाए कि इसे क्यों दिया गया है।
 
DSCF9950
ओप्पो एफ7 सोलर रेड वेरिएंट

हमें बैक में सिर्फ सिंगल कैमरा मिला, जो डुअल कैमरे की कमी महसूस नहीं होने देता। बावज़ूद इसके फोन के फ्रंट और रियर कैमरे पोर्ट्रेट मोड को सपोर्ट करते हैं। Oppo F7 में मीडियाटेक हीलियो पी60 ऑक्टा कोर प्रोसेसर इस्तेमाल हुआ है। यूज़र को 4 जीबी रैम के साथ 64 जीबी स्टोरेज और 6 जीबी रैम के साथ 128 जीबी स्टोरेज दी जाएगी। बता दें कि ज्यादा स्टोरेज वाला एडिशन सोलर रेड रंग में मिलेगा। वहीं, 4 जीबी और 6 जीबी वेरिएंट के लिए डायमंड ब्लैक रंग का विकल्प रखा गया है। डायमंड ब्लैक वर्ज़न को डायमंड कट इफेक्ट देने के लिए सक्षम बनाया गया है। हालांकि, यह कंपनी की 'चाल' है, जो निश्चित तौर पर कई लोगों को लुभाएगी। डिज़ाइन के मामले में यह एचटीसी की याद दिलाता है, जिसने एचटीसी डायमंड के साथ 3डी सरफेस का प्रयोग किया था।

कुछ ही समय के भीतर हमने हैंडसेट के 4 जीबी और 6 जीबी वर्ज़न पर हाथ आज़माया। दोनों तेजी से काम कर रहे थे। एंड्रॉयड 8.1 ओरियो पर आधारित कलरओएस 5.0 देखने में अच्छा है। हालांकि, हम यह नहीं कह सकते कि ऐप आइकन का फील और लुक हमें अच्छा लगा। टॉगल स्विच के साथ नोटिफिकेशन आसानी से ऊपर की ओर स्वाइप कर देखे जा सकते हैं। स्क्रीन रिकॉर्डिंग ओएस के साथ ही दे दी गई है। जब भी आप लैंडस्केप मोड में वीडियो या गेम इस्तेमाल कर रहे होंगे तो आसानी से बायीं ओर स्वाइप कर स्क्रीन रिकॉर्डिंग और म्यूट नोटिफिकेशन जैसे काम कर सकते हैं।

हैंडसेट का सबसे अहम पहलू फ्रंट कैमरा है, जिसे लेकर कंपनी का कहना है कि नए कैमरा ऐप में कई एआई फीचर डाले गए हैं। रियल टाइम एचडीआर फीचर सही काम कर रहा है लेकिन शटर बटन को कमांड देने के बाद यह थोड़ी देरी कर देता है। नया एआई ब्यूटी 2.0 दावा करता है कि यह 296 फेशियल रिकग्निशन प्वॉइंट पहचानता है। साथ ही गर्दन और कंधे भी इसकी नज़र में रहते हैं। इसमें बाकी फोन की तरह बैक कैमरे को ज्यादा मेगापिक्सल से लैस रखा गया है। इसमें वाइड अपर्चर एफ/1.8 है, जिससे कम रोशनी में बेहतर फोटॉग्रफी का वादा भी कंपनी की ओर से शामिल है।
 
Vivo
ओप्पो एफ7

हमने Oppo F7 के साथ बहुत ज्यादा वक्त नहीं बिताया लेकिन ऐसा लगता है कि वीवो वी9 से 1,000 रुपये कम में एक बेहतर फोन देने की कोशिश की है। तीनों रंग में हमें सिल्वर और ब्लैक ज्यादा बेहतर लगा। ओप्पो ने कई तरह के नॉच का पेटेंट करवा रखा है इसलिए संभव है कि आगामी ओप्पो स्मार्टफोन में तरह-तरह के डिज़ाइन देखने को मिलें।

हम Oppo F7 की विस्तार से रिव्यू जल्द करेंगे। गैजेट्स 360 हिंदी के साथ बने रहें। हम आपको यह भी बताएंगे कि यह वीवो वी9 से कितना बेहतर है?
  • डिज़ाइन
  • डिस्प्ले
  • सॉफ्टवेयर
  • परफॉर्मेंस
  • बैटरी लाइफ
  • कैमरा
  • वैल्यू फॉर मनी
  • खूबियां
  • बेहद ही हल्का
  • दमदार बैटरी लाइफ
  • तेज़ प्रोसेसर
  • अच्छी क्वालिटी वाला सेल्फी कैमरा
  • कमियां
  • कोई फास्ट चार्जिंग नहीं
  • यूआई लगता है पुराना
  • प्रीमियम लुक नहीं

डिस्प्ले

6.23 इंच

प्रोसेसर

2 मेगाहर्ट्ज़ ऑक्टा-कोर

फ्रंट कैमरा

25-मेगापिक्सल

रिज़ॉल्यूशन

1080x2280 पिक्सल

रैम

4 जीबी

ओएस

एंड्रॉ़यड 8.1

स्टोरेज

64 जीबी

रियर कैमरा

16-मेगापिक्सल

बैटरी क्षमता

3400 एमएएच
आपकी राय
रॉयडन सरेजो रॉयडन सरेजो ज़ुबान से फिट होने का शौक रखते हैं। टेक की दुनिया का सब कुछ पसंद है। और कंप्यूटर पार्ट्स की जमखोरी की आदत से धीरे-धीरे... और भी »

संबंधित ख़बरें

     
    OnePlus 6
    लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।