स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए आजमाएं ये तरीके

Share on Facebook Tweet Share Reddit आपकी राय
स्मार्टफोन की बैटरी लाइफ बढ़ाने के लिए आजमाएं ये तरीके

बैटरी लाइफ को इंप्रूव करने में काम आएंगे ये तरीके

ख़ास बातें

  • बैटरी लाइफ में गिरावट के हो सकते हैं कई कारण
  • बैटरी लाइफ को इंप्रूव करने के लिए जानें तरीका
  • हमारी गलती से बैटरी लाइफ पर पड़ता है गहरा असर
स्मार्टफोन यूजर की डिमांड को समझते हुए अब हैंडसेट निर्माता कंपनियां बड़ा डिस्प्ले, मल्टीटास्किंग के लिए पावरफुल प्रोसेसर और फुल एचडी+ डिस्प्ले वाले मोबाइल मार्केट में उतार रही हैं। फोन में ज्यादा एमएएच की बैटरी होने के बावजूद भी बैटरी लाइफ अगर अच्छी नहीं है तो हो सकता है कि आप कुछ गलती कर रहे हो। आज हम अपने लेख द्वारा आपको कुछ ऐसी अहम और जरूरी बातों के बारे में बताएंगे जो आपके लिए मददगार साबित होंगी।

ज्यादातर स्मार्टफोन 3,000एमएएच या फिर 4,000एमएएच की बैटरी के साथ आते हैं। कुछ ही ऐसे स्मार्टफोन हैं जो 5,000एमएएच बैटरी से लैस हैं। ज्यादा एमएएच की बैटरी के बाद भी फोन एक दिन से ज्यादा नहीं चल पाता। ऐसा इसलिए क्योंकि हम लोग कई बार ऐसी गलतियां कर बैठते हैं जिसका खामियाजा बैटरी को भुगतना पड़ता है। इन्हीं गलतियों की वजह से बैटरी लाइफ पर गहरा असर पड़ना शुरू हो जाता है और फिर बैटरी लाइफ धीरे-धीरे गिरने लगती है। नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर आप बैटरी लाइफ को इंप्रूव कर सकते हैं।
 

1) ब्राइटनेस को कम या ऑटो-ब्राइटनेस मोड पर रखें

18:9 और 19:9 अनुपात वाले स्मार्टफोन की मांग बढ़ती जा रही है। यही वजह है कि अब हैंडसेट निर्माता कंपनियां अपना ज्यादा ध्यान डिस्प्ले पर केंद्रित कर रही हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फोन में सबसे ज्यादा बैटरी खपत डिस्प्ले करती है। यदि बैटरी लाइफ को बढ़ाना है तो सबसे पहले तो ब्राइटनेस को कम कर दें या फिर फोन में मौजूद ऑटो-ब्राइटनेस फीचर को एक्टिवेट कर लें। ऐसा करने से बैटरी खपत कम होगी और बैटरी लाइफ बढ़ेगी।
 
display brightness
 

2) स्क्रीन टाइम आउट को कम करें

स्मार्टफोन यूजर की डिमांड को समझते हुए अब ज्यादातर फोन एचडी+ डिस्प्ले के साथ आ रहे हैं। जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि फोन में सबसे ज्यादा खपत डिस्प्ले से होती है। ऐसे में स्क्रीन टाइम आउट को कम रखने की सलाह दी जाती है। सेटिंग्स मेन्यू में या तो आपको स्क्रीन टाइम आउट या फिर स्लीप में से कोई एक विकल्प दिखाई देगा। यदि आपका फोन अभी 2 मिनट पर सेट है तो इसे 15 सेकेंड या फिर 30 सेकेंड पर सेट कर दें। ऐसा करने से बैटरी लाइफ सही रहेगी।
 

3) ब्लूटूथ और वाईफाई को बंद रखें

वायरलेस के बढ़ते ट्रेंड की वजह से फोन का ब्लूटूथ ज्यादातर एक्टिव रहता है। हेडसेट, वायरलेस स्पीकर और एक्टिविटी ट्रैकर फोन के ब्लूटूथ का इस्तेमाल करते हैं, ऐसे में बैटरी खपत बढ़ने लगती है। ना केवल ब्लूटूथ बल्कि वाईफाई, मोबाइल डेटा (3 जी/4 जी) और हॉटस्पॉट जैसे फीचर की वजह से भी फोन में बैटरी लाइफ पर असर पड़ता है। सलाह दी जाती है कि जब ब्लूटूथ और वाईफाई का इस्तेमाल ना हो तो इन्हें बंद कर दें। ऐसा करने से बैटरी लाइफ बेहतर होगी।
 

4) बैकग्राउंड ऐप्लिकेशन को करें बंद

स्मार्टफोन में मल्टीटास्किंग के लिए हैंडसेट निर्माता कंपनियां पावरफुल प्रोसेसर का इस्तेमाल कर रही हैं। ऐसे में यूजर एक के बाद एक ऐप्लिकेशन का इस्तेमाल करते रहते हैं, लेकिन जैसा कि हम सभी जानते हैं कि ऐप बंद करने के बाद भी यह ऐप्स बैकग्राउंड में चलती रहती हैं। यदि आप बैटरी लाइफ को इंप्रूव करना चाहते हैं तो इन बैकग्राउंड ऐप्स को बंद कर दें।  
 

5) वाइब्रेट मोड को रखें बंद

यदि आप ज्यादातर समय अपना फोन वाइब्रेट मोड पर रखते हैं तो ऐसे करने से बचना चाहिए। वाइब्रेट मोटर घूमती है और फोन को शेक करती है जिस वजह से बैटरी खपत बढ़ने लगती है। फोन में वाइब्रेट मोड की जरूरत ना हो तो इस फीचर को स्विच ऑफ ही रहने दें।
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।

 
 

ADVERTISEMENT