Android 10 हुआ रिलीज, जानें इसके नए फीचर्स के बारे में

अब जब Android 10 को रिलीज कर दिया गया है। आइए एक नज़र इसके साथ मिलने वाले नए फीचर्स पर डालते हैं...

Share on Facebook Tweet Share Reddit आपकी राय
Android 10 हुआ रिलीज, जानें इसके नए फीचर्स के बारे में

Android 10 अभी पिक्सल फोन के लिए रिलीज हुआ

ख़ास बातें
  • डार्क थीम और फोकस मोड जैसे फीचर Android 10 का हिस्सा हैं
  • इनहांस्ड नेविगेशन्स और बबल्स नोटिफिकेशन्स बनेगा एंड्रॉयड फोन का हिस्सा
  • फोकस मोड एंड्रॉयड पाई यूज़र्स को भी मिलेगा
Android 10 को सभी पिक्सल फोन के लिए रिलीज कर दिया गया है। Pixel 3, Pixel 3 XL, Pixel 3a, Pixel 3a XL, Pixel 2, Pixel 2 XL, Pixel, और Pixel XL को एंड्रॉयड 10 का अपडेट मिलना शुरू हो गया है। यूज़र्स चाहें तो ओवर द एयर अपडेट के रोल आउट का इंतज़ार कर सकते हैं। आपके पास ओटीए अपडेट फाइल्स को साइडलोड करने का भी विकल्प है। याद रहे कि एंड्रॉयड 10 को इस साल मार्च महीने में एंड्रॉयड क्यू बीटा प्रोग्राम के नाम से पेश किया गया था। लेटेस्ट सॉफ्टवेयर वर्ज़न के साथ Google ने 10 साल के उस इतिहास को बदलने का फैसला किया जिसमें कंपनी एंड्रॉयड का नाम डेजर्ट का नाम इस्तेमाल करती थी। अब लेटेस्ट सॉफ्टवेयर को एंड्रॉयड 10 के नाम से बुलाया जा रहा है। गूगल का दावा है कि नाम में बदलाव करके वह अपने प्रोडक्ट को ग्लोबल यूज़र्स की समझ के लिए आसान बनाना चाहती है।

अब जब एंड्रॉयड 10 को रिलीज कर दिया गया है। आइए एक नज़र इसके साथ मिलने वाले नए फीचर्स पर डालते हैं...
 

Android 10: How to download, install

अगर आपके पास पिक्सल स्मार्टफोन है तो आप एंड्रॉयड 10 ओटीए अपडेट का इंतज़ार कर सकते हैं, या नए अपडेट की जांच सेटिंग्स > सिस्टम > सिस्टम अपडेट्स में कर सकते हैं। गूगल ने एंड्रॉयड 10 ओटीए अपडेट के फाइल्स को भी पब्लिश किया है। आप यहां क्लिक करके अपडेट फाइल्स पा सकते हैं। इन फाइल्स को आप पिक्सल फोन पर डाउनलोड करके साइडलोड कर सकते हैं। भले ही यह ओटीए अपडेट का तरीका आपके डेटा को इरेज नहीं करेगा। लेकिन हम आपको बैकअप बनाने का सुझाव देंगे।

पिक्सल फोन यूज़र्स एंड्रॉयड 10 फैक्ट्री इमेज पेज पर जाकर अपने फोन में पूरे रॉम को फ्लैश कर सकते हैं। ऐसा करने से सारा डेटा इरेज हो जाएगा। यानी फ्लैशिंग से पहले डेटा का बैकअप करना बेहद ही ज़रूरी होगा।
 

Android 10 के टॉप फीचर


डार्क थीम
I/O 2019 में ही ऐलान किया गया था कि एंड्रॉयड 10 सिस्टम वाइड थार्क थीम के साथ आता है। यह आखों पर जोर कम करता है और बैटरी लाइफ की बचत भी करता है। यूज़र्स सेटिंग्स > डिस्प्ले में जाकर सिस्टम वाइड डार्क थीम को एक्टिवेट कर सकते हैं। इसे नए क्विक सेटिंग्स टाइल या बैटरी सेवर को टर्न ऑन करके भी एक्टिव किया जा सकता है। सिस्टम यूआई को डार्क में बदलने के अलावा सपोर्ट करने वाले ऐप्स भी नए डार्क थीम को दिखाएंगे।

और बेहतर प्राइवेसी कंट्रोल्स
प्राइवेसी के लिए एंड्रॉयड 10 सेटिंग्स में नया प्राइवेसी सेक्शन लाता है। यह सेक्शन एक्टिविटी कंट्रोल्स, लोकेशन हिस्ट्री और एड सेटिंग्स जैसे विकल्प के साथ आता है। यह कई नए फीचर्स के साथ भी आता है। आप ऐप लोकेशन पर्मिशन तय कर पाएंगे। स्कोप्ड स्टोरेज के जरिए ऐप द्वारा डेटा एक्सेस करने पर नियंत्रण किया जा सकेगा।

प्राइवेसी फीचर में अनचाहे ऐप को बैकग्राउंड में लॉन्च करने पर रोक लगाने की भी सुविधा है। ऐसा ट्रैकिंग पर रोक लगाने के लिए किया गया है।

लोकेशन कंट्रोल्स  
एंड्रॉयड 10 इनहांस्ड लोकेशन कंट्रोल्स के साथ आता है। इसमें यूज़र्स को ऐप्स पर डिवाइस के लोकेशन को एक्सेस करने पर नियंत्रण करने का मौका मिलता है। कई विकल्प होंगे- हमेशा के लिए, कभी नहीं या ऐप खुला होने पर।

फोकस मोड
फोकस मोड नया एंड्रॉयड फीचर है जिसे एंड्रॉयड पाई यूज़र्स के लिए भी उपलब्ध कराया जाएगा। नया फीचर कंपनी के डिजिटल वेलबिइंग प्रोग्राम का हिस्सा है। फोकस मोड यूज़र्स को अपनी चाहत के ऐप्स को साइलेंट करने की सुविधा देता है। नए मोड के क्विक टॉगल के ज़रिए एक्टिव और इनेक्टिव किया जा सकता है।

लाइव कैपशन
लाइव कैपशन संभवतः एंड्रॉयड 10 का सबसे रोचक फीचर है। यूट्यूब के लिए डेवलप किए गए कैपशन टेक्नोलॉजी को इस्तेमाल में लाते हुए लाइव कैपशन को एंड्रॉयड 10 का हिस्सा बनाया गया है। अब ऑपरेटिंग सिस्टम ही ऑडियो मैसेजेज, वीडियोज, पोडकास्ट और कई अन्य ऐप्स में कैपशन लिखेगा। यह फीचर उन लोगों के बेहद ही काम का है जो म्यूट पर वीडियो देखना पसंद करते हैं और जिन्हें सुनने में दिक्कत होती है।

इनहांस्ड नोटिफिकेशन्स़
एंड्रॉयड 10 में नोटिफिकेशन्स को क्लासिफाई किया गया है। अब यह जेंटल और प्रायरिटी के बीच बंटा होगा। इसके पीछे मकसद नोटिफिकेशन्स के ओवरलोड को कम करने का है। प्रायरिटी नोटिफिकेशन्स यूज़र्स का ध्यान अपनी ओर खींचेगा। इसमें आवाज के साथ स्टेटस बार आइकन्स आएंगे। यह लॉक स्क्रीन पर भी दिखेगा। जबकि जेंटल नोटिफिकेशन्स हमेशा साइलेंट रहेंगे। यह पुल-डाउल नोटिफिकेशन्स शेड में मौज़ूद रहेंगे।

बबल नोटिफिकेशन्स
एंड्रॉयड 10 में बबल्स नाम का नया फीचर आया है। यह नोटिफिकेशन्स का नया स्टाइल होगा। जैसे कुछ मैसेजिंग ऐप्स चैट हेड्स को इस्तेमाल करते हैं। बबल्स यूज़र्स को आसानी से मल्टीटास्क करने का विकल्प देगा। चैट नोटिफिकेशन्स के लिए फ्लोटिंग आइकन्स स्क्रीन पर आएगा। ये आइकन्स स्क्रीन पर रहेंगे ताकि यूज़र किसी भी समय में बातचीत शुरू कर पाएंगे। यूज़र्स इन्हें स्क्रीन के किसी भी हिस्से पर ड्रैग कर पाएंगे। बबल्स को कम्युनिकेशन्स नोटिफिकेशन्स के लिए प्रायरटाइज़ किया जाएगा।

जेस्चर नेविगेशन मोड ऑप्शन
एंड्रॉयड 10 नए जेस्चरल नेविगेशन मोड के साथ आ रहा है जो नेविगेशन बार एरिया को हटा देगा। इसका उद्देश्य है कि ऐप्स और गेम्स कंटेंट को फुल स्क्रीन पर चलाया जा सके। बैक, होम और रिसेंट को विजिबल बटन के बजाय एज स्वाइप के जरिए एक्सेस किया जा सकेगा। इन्हें अब  सेटिंग्स> सिस्टम> जेस्चर में जाकर स्विच ऑन किया जा सकता है। स्क्रीन में नीचे से ऊपर की ओर स्वाइप करने पर होम स्क्रीन, होल्ड करने पर रिसेंट और स्क्रीन के बायीं या दाहिने किनारे से स्वाइप करने से बैक होता है।

फोल्डेबल डिवाइस के लिए नेटिव सपोर्ट
Android 10 फोल्डेबल डिवाइस के लिए नेटिव सपोर्ट के साथ आ रहा है। I/O 2019 में गूगल ने कूल कंटीन्यूटी फीचर को भी दिखाया था जिसमें गेम्स को छोटी स्क्रीन से बड़े टैबलेट जैसी स्क्रीन पर स्विच किया जा सकता है। Samsung Galaxy Fold और Huawei Mate X को जल्द लॉन्च किया जा सकता है, ऐसे में यह सपोर्ट उपयोगी साबित होगा। भविष्य में नेटिव सपोर्ट को अन्य स्मार्टफोन के लिए भी दिया जा सकता है। अन्य फीचर्स में बेहतर फैमिली लिंक, साउंड एम्पलीफायर और बेहतर सिक्योरिटी अपडेट शामिल है।
आपकी राय

लेटेस्ट टेक न्यूज़, स्मार्टफोन रिव्यू और लोकप्रिय मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव ऑफर के लिए गैजेट्स 360 एंड्रॉयड ऐप डाउनलोड करें।

तसनीम अकोलावाला टेक से दूर तसनीम को दिल को छू लेने वाली कहानियां पढ़ने का शौक है। ... और भी »
पढ़ें: English
 
 

ADVERTISEMENT

 
#ट्रेंडिंग टेक न्यूज़
© Copyright Red Pixels Ventures Limited 2019. All rights reserved.
तसनीम अकोलावाला को संदेश भेजें
* से चिह्नित फील्ड अनिवार्य हैं
नाम: *
 
ईमेल:
 
संदेश: *
 
2000 अक्षर बाकी